पुराने मकान पर लोन कैसे मिलता है? इन प्रक्रिया का पालन करें

पुराने मकान पर लोन चाहिए? मैं आपकी परेशानी को समझ सकता हूं। यह मेरा एक रिसर्च आर्टिकल है। इसमें ऐसी जानकारी दी गई है, जिससे आप बहुत ही आसानी से लोन लेने में सक्षम होंगे।

जानकारी की कमी के कारण कई लोग हैं जिनका मकान पर लोन रिजेक्ट हो जाता है। अगर आप चाहते हैं कि आपका लोन रिजेक्ट ना हो बल्कि पास हो जाए। इसके लिए आखिर तक चेक कीजिए।

पुराने मकान पर लोन लेने का सबसे सटीक तरीका क्या है
पुराने मकान पर लोन

बैंकिंग प्वाइंट: पुराने मकान पर लोन एक प्रकार का लोन अगेंस्ट प्रॉपर्टी है। लोन अगेंस्ट प्रॉपर्टी एक सिक्योर्ड लोन की श्रेणी में आता है।

सिक्योर्ड लोन उसे कहा जाता है, जब कोई व्यक्ति अपनी संपत्ति को बैंक के पास बंधक या गिरवी रख करके उसके बदले लोन लेता हो, उसे सुरक्षित लोन कहा जाता है।

सुरक्षित लोन का ब्याज दर कम होता है, क्योंकि बैंक का लोन डूबने का कोई चांस नहीं होता है। यह लोन अन्य किसी भी लोन की तुलना में आसानी से मिलता है।

Table of Contents show

क्या पुराने मकान पर लोन मिलता है? 

जी हाँ, पुराने मकान पर भी आप को लोन मिल जाएगा। भारत में आप अपने पुराने घर के एवज में लोन प्राप्त कर सकते हैं। 

भारत में आप अकेले व्यक्ति नहीं हैं, करोड़ों लोगों ने अपने घर को बंधक या गिरवी रखकर के बैंक से लोन लिया है। लोन अगेंस्ट दी प्रॉपर्टी, भारत का सबसे चर्चित लोन में से एक है।

अगर मकान नया है या पुराना है। उससे कोई मतलब नहीं है। मतलब है कि वह मकान आवेदन के नाम पर है या नहीं। मकान के मूल्य के आधार पर लोन की अमाउंट तय होती है।

पुराने मकान पर कौन-कौन से बैंक लोन देता है? 

पुराने मकान पर लोन या लोन अगेंस्ट प्रॉपर्टी देने वाला भारत में 33 बैंकों के अलावा एक हजार से ज्यादा नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियां हैं। पहले कुछ उदाहरण पढ़ लीजिए।

  • भारतीय स्टेट बैंक

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) भारत के अग्रणी बैंकों में से एक है जो पुराने घरों के बदले ऋण प्रदान करता है। इस योजना के तहत प्राप्त की जा सकने वाली अधिकतम ऋण राशि रुपये है। 10 लाख और ब्याज दर 9.85% प्रति वर्ष है।

  • एचडीएफसी बैंक

HDFC बैंक भारत में पुराने मकानों पर लोन भी देता है। इस योजना के तहत प्राप्त की जा सकने वाली अधिकतम ऋण राशि रुपये है। 20 लाख और ब्याज दर 5 साल तक के कार्यकाल के लिए 10.50% प्रति वर्ष है।

  • आईसीआईसीआई बैंक

आईसीआईसीआई बैंक गृह सुधार ऋण प्रदान करता है जिसका उपयोग पुराने घरों की मरम्मत और नवीनीकरण के लिए किया जा सकता है।

पुराने मकान पर लोन देने वाली बैंकों की सूची

  1. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया
  2. पंजाब नेशनल बैंक
  3. बैंक ऑफ बड़ौदा
  4. बैंक ऑफ इंडिया
  5. बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  6. केनरा बैंक
  7. सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  8. इंडियन बैंक
  9. इंडियन ओवरसीज बैंक
  10. पंजाब एंड सिंध बैंक
  11. यूको बैंक
  12. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  13. एक्सिस बैंक
  14. बंधन बैंक 
  15. सीएसबी बैंक 
  16. सिटी यूनियन बैंक 
  17. डीसीबी बैंक 
  18. धनलक्ष्मी बैंक 
  19. फेडरल बैंक 
  20. एचडीएफसी बैंक 
  21. आईसीआईसीआई बैंक 
  22. इंडसइंड बैंक 
  23. आईडीएफसी फर्स्ट बैंक 
  24. जम्मू एंड कश्मीर बैंक 
  25. कर्नाटक बैंक 
  26. करूर वैश्य बैंक 
  27. कोटक महिंद्रा बैंक 
  28. नैनीताल बैंक 
  29. आरबीएल बैंक 
  30. साउथ इंडियन बैंक 
  31. तमिलनाडु मर्केंटाइल बैंक 
  32. यस बैंक 
  33. आईडीबीआई बैंक 

पुराने मकान पर लोन लेने की क्या योग्यता होती है? 

आप अपने पुराने घर पर ऋण ले सकते हैं, यदि यह गिरवी मुक्त है और इसका स्पष्ट शीर्षक है। लोन राशि संपत्ति के मूल्य पर आधारित होगी, और आपको आय और स्वामित्व दस्तावेजों का प्रमाण देना होगा। 

1) वेतनभोगी व्यक्तियों के लिए योग्यता

  • भारत का नागरिक हो। 
  • उम्र 21 वर्ष से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए। 
  • न्यूनतम आय कम से कम ₹8000 प्रति महीना होनी चाहिए। 

2) स्व नियोजित व्यक्तियों के लिए योग्यता

  • भारत का नागरिक हो। 
  • उम्र 21 वर्ष से 70 वर्ष के बीच होनी चाहिए। 
  • न्यूनतम आय कम से कम ₹7000 प्रति महीना होनी चाहिए। 

3) सह-आवेदक के लिए योग्यता 

  • आवेदक के लिए उम्र सीमा 18 वर्ष लेकर के 65 वर्ष होनी चाहिए। 
  • भारत का नागरिक हो। 

पुराने मकान पर लोन लेने के लिए क्या क्या डाक्यूमेंट्स होने चाहिए? 

भारत में, यदि आप अपने पुराने घर के एवज में ऋण लेना चाहते हैं, तो आपको निम्नलिखित दस्तावेज देने होंगे:

  1. बिक्री विलेख या संपत्ति के समझौते की एक प्रति।
  2. पिछले तीन वर्षों का आयकर रिटर्न।
  3. एक पंजीकृत मूल्यांकक से मूल्यांकन रिपोर्ट।
  4. हाउसिंग सोसाइटी या एसोसिएशन से अनापत्ति प्रमाण पत्र, यदि लागू हो।
  5. संपत्ति का मूल हक विलेख।
  6. जिस वित्तीय संस्थान से आप लोन ले रहे हैं, उसका स्वीकृति पत्र

इसके अलावा आपको व्यक्तिगत डाक्यूमेंट्स भी देने होंगे जो 2 भागों में बांटा गया है! 

1) वेतनभोगी व्यक्तियों के लिए जरूरी डॉक्युमेंट्स

  • Self-attested आवेदन पत्र
  • पहचान एवं निवास की पहचान के लिए प्रमाण पत्र देने होंगे जिसके लिए आप अपना आधार कार्ड, पैन कार्ड मतदाता पहचान पत्र, नरेगा जॉब कार्ड आदि का उपयोग कर सकते हैं। 
  • आय प्रमाण पत्र के लिए पिछले 3 महीनों का वेतन की पर्ची, बैंक स्टेटमेंट एवं नवीनतम form 16 देना होगा। 
  • इसके अलावा सबसे महत्वपूर्ण संपत्ति के सभी दस्तावेज जो बैंक आपसे मांगेंगे, जैसे पट्टे का पेपर आदि। 

2) स्व-नियोजित व्यक्तियों के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

  • Self-attested आवेदन पत्र
  • पहचान एवं निवास की पहचान के लिए प्रमाण पत्र देने होंगे जिसके लिए आप अपना आधार कार्ड, पैन कार्ड मतदाता पहचान पत्र, आदि का उपयोग कर सकते हैं। 
  • आय प्रमाण पत्र के लिए नवीनतम 2 आय रिटर्न, नवीनतम दो साल के पी एंड एल खाते साथ ही बी / एस शेड्यूल के साथ होना चाहिए! आखिरी 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट देना आवश्यक है। 
  • इसके अलावा सबसे महत्वपूर्ण संपत्ति के सभी दस्तावेज जो बैंक आपसे मांगेंगे, जैसे पट्टे का पेपर आदि।

पुराने मकान पर लोन लेने की क्या प्रक्रिया है? 

भारत में, पुराने घर के एवज में लोन लेने की प्रक्रिया अपेक्षाकृत सरल है। पहला कदम बैंक या अन्य वित्तीय संस्थान से संपर्क करना है जो इस प्रकार का लोन प्रदान करता है। 

उधारकर्ता को तब संपत्ति के स्वामित्व का प्रमाण देने की आवश्यकता होगी, साथ ही संपत्ति के मूल्य का मूल्यांकन भी करना होगा। पुराने घर का मूल्यांकन आपको खुद से भी करवाना पड़ सकता है या फिर बैंक इस काम को खुद चेक कर सकता है। 

संपत्ति के मूल्यांकन के बाद, आवेदक का मूल्यांकन होता है। बैंक यह देखी है कि आवेदक आर्थिक तौर पर कितना मजबूत है और वह क्या समय पर लोन वापस कर पाएगा।

संपत्ति एवं आवेदक का मूल्यांकन के बाद ही लोन अप्रूव होता है। साथ ही यह भी देखा जाता है कि कितना अमाउंट का लोन आप को दिया जा सकता है। 

पुराने मकान पर लोन लेने के लिए अप्लाई कैसे करें? 

अगर आप भारत में अपने पुराने घर के एवज में लोन लेना चाह रहे हैं, तो आपको कुछ बातों का पता होना चाहिए। प्रक्रिया अपेक्षाकृत सरल है, लेकिन आपको कुछ चरणों का पालन करने की आवश्यकता है।

सबसे पहले, आपको सभी आवश्यक दस्तावेज एकत्र करने होंगे। इसमें स्वामित्व का प्रमाण, आय विवरण और संपत्ति घोषणा जैसी चीज़ें शामिल हैं। एक बार आपके पास सभी आवश्यक कागजी कार्रवाई हो जाने के बाद, आप आवेदन प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं।

आप अपने पुराने घर के बदले लोन के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। 

यदि आप ऑफ़लाइन आवेदन करना चुनते हैं, तो आपको व्यक्तिगत रूप से बैंक या लोन देने वाली संस्था में जाना होगा और एक आवेदन पत्र भरना होगा। 

यदि आप ऑनलाइन आवेदन करते हैं, तो आप आमतौर पर ऋणदाता की वेबसाइट के माध्यम से ऐसा कर सकते हैं।

एक बार जब आप अपना आवेदन जमा कर देते हैं, तो ऋणदाता इसकी समीक्षा करेगा और निर्णय लेगा।

हमें क्यों पुराने मकान पर लोन लेना चाहिए? 

एक पुराने घर के एवज में कर्ज लेने के कई और विविध कारण हैं। कुछ लोग इसे लोन को समेकित करने के लिए करते हैं, जबकि अन्य इसे बहुत आवश्यक मरम्मत या नवीनीकरण करने के लिए करते हैं। 

कारण चाहे जो भी हो, पुराने घर के एवज में कर्ज लेना एक स्मार्ट वित्तीय कदम हो सकता है।

एक बात तो यह है कि पुराने घर के एवज में दिए गए कर्ज की ब्याज दरें, अन्य तरह के कर्जों की तुलना में कम होती हैं। 

ऐसा इसलिए है क्योंकि घर लोन के लिए संपार्श्विक के रूप में कार्य करता है, जिसका अर्थ है कि बैंक के पास डिफ़ॉल्ट का जोखिम कम होता है। 

इसके अलावा, एक पुराने घर के एवज में दिए गए ऋण का उपयोग किसी भी उद्देश्य के लिए किया जा सकता है, इसलिए आप पैसे का उपयोग वैसे ही कर सकते हैं जैसे आप उचित समझें।

एक पुराने घर के एवज में ऋण लेना आपके लिए अपने घर को एकमुश्त बेचने की आवश्यकता के बिना धन प्राप्त करने का एक अच्छा तरीका हो सकता है।

FAQs 

अभी तक आपने पुराने मकान से लोन कैसे लिया जाए, जानकारी प्राप्त कर लिया होगा। आपकी और बेहतर जानकारी के लिए, मैंने कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों के उत्तर को शामिल किया है, जिसे पढ़कर आप ज्यादा लाभ अर्जित कर सकते हैं। 

प्रश्न (1) – बने हुए मकान पर लोन कैसे ले?

उत्तर – भारत में बने-बनाए घर के लिए लोन लेते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। सबसे पहले, आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि घर ठीक से पंजीकृत है और सभी आवश्यक कागजी कार्रवाई क्रम में है।

दूसरे, आपको एक बैंक खोजने की आवश्यकता होगी जो आपको घर की खरीद मूल्य के लिए लोन देने को तैयार हो। 

आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता होगी कि आप लोन पर मासिक भुगतान वहन कर सकते हैं।

प्रश्न (2) – मकान पर लोन लेने के लिए क्या क्या कागज चाहिए?

उत्तर – भारत में होम लोन लेने के लिए, आपको अपने आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ, इनकम प्रूफ, बैंक स्टेटमेंट और सिबिल स्कोर जैसे कई दस्तावेज जमा करने होंगे। आपको बैंक द्वारा आवश्यक संपत्ति रिपोर्ट और अन्य दस्तावेज भी प्रदान करने की आवश्यकता हो सकती है।

प्रश्न (3) – गांव में मकान पर लोन कैसे मिलता है?

उत्तर – भारत के एक गाँव में घर पर ऋण प्राप्त करने के कुछ तरीके हैं। एक तरीका सरकार के माध्यम से जाना है। सरकार का एक कार्यक्रम है जो लोगों को ग्रामीण क्षेत्रों में घरों के लिए लोन प्राप्त करने में मदद करता है। 

दूसरा तरीका एक निजी लोन या ऋणदाता के माध्यम से जाना है। कई निजी बैंक और ऋणदाता हैं जो ग्रामीण क्षेत्रों में घरों के लिए ऋण देंगे। इसके अलावा सरकार दिया द्वारा सब्सिडाइज लोन के विकल को भी देख सकते हैं। 

प्रश्न (4) – मकान की रजिस्ट्री पर कितना लोन मिल सकता है?

उत्तर – भारत में एक घर की रजिस्ट्री के एवज में प्राप्त की जा सकने वाली ऋण राशि संपत्ति के मूल्य, उधारकर्ता की आय और बैंक की नीतियों जैसे विभिन्न कारकों पर निर्भर करती है। 

आम तौर पर, बैंक और अन्य वित्तीय संस्थान संपत्ति के मूल्य का 80% तक ऋण के रूप में पेश करते हैं।

प्रश्न (5) – जमीन पर लोन है या नहीं कैसे पता लगाएं? 

उत्तर – यह पता लगाने के लिए कि भूमि पर कोई ऋण है या नहीं, आपको लोन और भूमि अभिलेखों के प्रभारी स्थानीय सरकारी कार्यालय से संपर्क करना होगा। 

आप यह जानकारी ऑनलाइन पा सकते हैं, या आपको व्यक्तिगत रूप से कार्यालय जाने की आवश्यकता हो सकती है। 

एक बार आपके पास संपर्क जानकारी होने के बाद, आप कॉल कर सकते हैं या कार्यालय जा सकते हैं और संबंधित भूमि पर ऋण के बारे में पूछ सकते हैं।

प्रश्न (6) – पुराने में मकान पर लोन लेने पर कितना ब्याज लगता है?

उत्तर – भारत में घर के बदले लोन लेने पर ब्याज दर व्यक्ति के क्रेडिट स्कोर, घर के प्रकार और लोन की राशि के आधार पर अलग-अलग होती है।

आम तौर पर, अधिकांश लोगों के लिए ब्याज दर 10 से 15% के बीच होती है। हालांकि, उत्कृष्ट क्रेडिट स्कोर वाले कुछ लोग कम ब्याज दर प्राप्त करने में सक्षम हो सकते हैं।

Conclusion Points

पुराने मकान पर लोन को सिक्योर्ड लोन के श्रेणी में रखा गया है। एक प्रकार अगेंस्ट दी प्रॉपर्टी लोन है। इस प्रकार के लोन को ले करके आप अपने अलग-अलग उद्देश्यों में इस्तेमाल कर सकते हैं। 

अगर आपके पुराने मकान हैं और आप को कम इंटरेस्ट रेट पर लोन चाहिए तो आपके लिए यह एक बेहतरीन विकल्प है! याद रखेगा कि यह सिक्योर्ड लोन है अगर आप पूरा पैसा नहीं चुकाएंगे तो आपके संपत्ति का नीलामी हो सकता है।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

close