बैंक से लोन लेने का तरीका बताएं: आसानी से लोन कैसे ले

क्या आप बैंक से लोन लेने का तरीका को सर्च कर रहे हैं और आसानी से लोन लेना चाहते हैं? सही मायने में, आज आप एक बेहतरीन आर्टिकल तक पहुंच चुके हैं.

इस आर्टिकल के माध्यम से आपको लोन लेने का सबसे सटीक तरीका बताया जाएगा. इस आर्टिकल में आपको, लोन लेने से पहले की तैयारी और अप्लाई करने का तरीका बताया जाएगा.

बहुत आसानी से लोन कैसे लें

बैंक से लोन लेने का तरीका: जो पूरी प्रक्रिया को आसान बना देगा

आज आपको लोन लेने का सबसे कामयाब तरीका पता चलने वाला है. थोड़ा सा धैर्य से धीरे पढ़े:

  • सबसे पहले, अपने जरूरत का सही से आकलन कीजिए. उसके हिसाब से लोन के प्रकार को चुनें.
  • लोन के प्रकार के चुनाव के बाद, यह देखें कि, इस प्रकार का लोन कौन कौन सी बैंक देती है. उसका लिस्ट बनाएं.
  • लोन की योग्यता और डॉक्यूमेंटेशन के साथ-साथ ब्याज दर का ठीक से एनालिसिस करें.
  • उसके बाद, प्लान ए के तहत 2 या 3 सरकारी बैंकों का चुनाव करें. प्लान बी के तहत कुछ प्राइवेट बैंकों का चुनाव करें.
  • पहले सरकारी बैंकों में अप्लाई करने के लिए उसके डॉक्यूमेंट को तैयार करें.
  • अप्लाई करने का सही तरीका जाने और उसी हिसाब से अप्लाई करें.
  • सरकारी बैंक से सस्ते ब्याज दरों पर लोन मिल जाता है तो ठीक है, नहीं तो फिर प्राइवेट बैंक में अप्लाई करें.

अगर आप इस मास्टर प्लानिंग के साथ किसी भी प्रकार के लिए लोन के लिए टारगेट करेंगे. तो यकीनन आप कामयाब हो जाएंगे.

यह आर्टिकल यहीं पर खत्म नहीं होता है. इस आर्टिकल को आखिर तक पर यह आपको कई रोचक जानकारी मिलेगा जो आप को कभी ना कभी फायदा दिलाएगा.

स्टेट बैंक से लोन लेने का तरीका जानिए 

आप किसी जॉब में हूं और आपकी मंथली इनकम ₹15000 से अधिक हो. साथ ही आपका सैलरी अकाउंट भी एसबीआई में हो. ऐसी स्थिति में गारंटी आपको स्टेट बैंक से लोन मिल जाएगा.

नया तरीका: इसके अलावा अगर आपकी स्थिति इससे अलग है तो आपको एसबीआई से लोन लेने के लिए अपना बुद्धि लगाना होगा.

याद रखेगा कि बिना इनकम प्रूफ के किसी भी कीमत पर एसबीआई आपको किसी प्रकार का भी लोन नहीं देगा.

इनकम प्रूफ भारत में एक ही होता है वह होता है आइटीआर. अगर आपका इनकम बहुत ज्यादा नहीं भी है तो आपको पता ही है कि अब ₹700000 तक का आइटीआर फाइल करने पर कोई भी टैक्स नहीं लगता है.

आप बड़े ही आराम से ₹400000 तक का आइटीआर फाइल कीजिए. हो सके तो एसबीआई में अपना करंट अकाउंट खुलवा लीजिए. इस आधार पर आपको बड़े ही आसानी से लोन एसबीआई से मिल जाएगा.

एक्सिस बैंक से लोन लेने का तरीका

किसी भी व्यक्ति का मंथली इनकम ₹15000 से अधिक होने पर, एक्सिस बैंक बड़े ही आसानी से लोन दे देती है.

अगर आप का बिजनेस है इससे अधिक भी इनकम है लेकिन आपके पास कोई इनकम प्रूफ नहीं है तो आपको यह बैंक लोन नहीं देगी.

नया तरीका: एक्सिस बैंक करंट अकाउंट वाले को लोन देने में ज्यादा नहीं सोचती है बशर्ते कि उसके करंट अकाउंट में अच्छा ट्रांजैक्शन हो.

अगर आप 6 महीने पहले भी प्लानिंग करेंगे तो आप इसमें कामयाब हो जाएंगे. कोशिश करें कि इस बैंक में 6 महीना पहले करंट अकाउंट खुलवाएं और उसमें ज्यादा से ज्यादा ट्रांजैक्शन करें.

साथ ही आपको आइटीआर भी फाइल करना चाहिए. आप इतने का ही कीजिए, जितना में कोई इनकम टैक्स नहीं लगता है.

करंट अकाउंट और आइटीआर के आधार पर आप बड़े ही आसानी से एक्सिस बैंक से loan ले सकते हैं.

लोन प्राप्त करने के लिए क्या एलिजिबिलिटी है?

आमतौर पर loan लेने के लिए उम्र 21 से 60 साल के बीच होनी चाहिए। Loan लेने के लिए आपका इंडियन नागरिक होना आवश्यक है इसके अतिरिक्त आपका कोई income source होना चाहिए। 

आसानी से लोन प्राप्त करने के लिए नीचे दिए गए बातों का ध्यान रखें

आपके बैंक खाता में, आधार कार्ड में आपका मोबाइल नंबर अपडेट होना चाहिए। आपके पास आपके saving bank account के नेट बैंकिंग facility होनी चाहिए। आपके savings bank account में आपका address अपडेट होना चाहिए।

आपका क्रेडिट स्कोर का अच्छा होना जरूरी है और आपके पास नीचे दिए गए डॉक्यूमेंट्स होने चाहिए। नीचे जरूरी सारे डॉक्यूमेंट्स और क्रेडिट स्कोर के बारे में पूरी जानकारी दी जा रही है। ये सारी मालूमात के लिए आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े।

पहचान के प्रमाण के लिए

इंडिया में गवर्नमेंट के द्वारा issue पहचान पत्र को पहचान का सबसे विश्वसनीय सबूत माना जाता है। अपनी पहचान सत्यापित करने के लिए आप नीचे दिए हुए documents में से कोई एक डॉक्यूमेंट प्रस्तुत कर सकते हैं। 

  • Passport 
  • Aadhar Card 
  • Pan Card 
  • Driving licence 
  • Voter ID.

निवास के प्रमाण के लिए

निवास का सबूत गवर्नमेंट के द्वारा issue किया गया दूसरा सबसे विश्वसनीय डॉक्यूमेंट है। निवास के प्रमाण के लिए नीचे दिए हुए डॉक्युमेंट्स को आदर्श माना गया है इनमें से किसी एक को प्रस्तुत कर सकते हैं। 

  • Passport 
  • Aadhar Card 
  • Voter ID
  • LIC Policy receipt 
  • Utility bills ( Electricity bills, Gas bills, Water bills) 
  • Ration Card.

आयु के प्रमाण के लिए

पर्सनल लोन लेने के लिए उम्र एक अहम कारक है। आपको आवेदन में दिए हुए उम्र के सत्यापन लिए सहायक डॉक्यूमेंट्स  के रूप में नीचे दिए हुए डॉक्यूमेंट्स में कोई भी डॉक्यूमेंट देने होंगे। 

  • Passport 
  • Aadhar Card 
  • Pan Card 
  • Birth Certificate 
  • Voter ID
  • 10th Mark sheet.

नौकरी पेशा के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट्स

कर्मचारी वह व्यक्ति है जिसे एक संगठन के जरिया नियोजित किया जाता है और मासिक वेतन के तौर पर आय प्राप्त करता है। Financial institutions या bank को नौकरी पेशा लोगों से लोन के लिए नीचे दिए हुए डॉक्यूमेंट्स की जरूरत होती है।

आय प्रमाण – सबसे जरूरी

नोकरी पेशा व्यक्ति को लोन के लिए आय के प्रमाण के रूप में उस संगठन से income का एक स्थिर स्रोत जो आप प्राप्त करते हैं, प्रस्तुत करना होता है। 

  • Salary slip of last 6 months 
  • Bank statement of last 3 months 
  • Income tax return of last 2 years 
  • Latest copy of form 16
  • Increment or promotion letter.

निवेश का प्रमाण

अगर आपके पास किसी भी निवेश जैसे कि mutual fund, shares हैं, तो आपको investment document प्रस्तुत करना होगा। ये documents bank को यह यकीन दिलाते हैं कि आप अपने finance की अच्छी तरह से प्लान बनाते हैं। इस तरह उन्हें भरोसा होता है हैं कि आप अपना लोन समय पर चुकाएंगे।

Self Employed व्यक्तियों के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट्स

Self employed पर्सनल लोन लेने के लिए नीचे दिए हुए डॉक्यूमेंट्स प्रस्तुत करना होता है। 

Proof of office ownership 

अगर आप एक self employed हैं तो आपको अपने ऑफिस के पते का प्रमाण प्रस्तुत करना होगा। ऑफिस के पते को सत्यापित करने के लिए नीचे दिए हुए documents में से कोई प्रस्तुत कर सकते हैं। 

  • Property documents
  • Maintenance bill
  • Utility bills. 

Proof of Business Existence

  • Salary slip of last 3 years 
  • Copy of the establishment certificate of the shop
  • Tax registration copy ( कोई भी) 
  • Company registration licence.

NRI आवेदकों के लिए आवश्यक दस्तावेज

NRI भी लोन ले सकता है। सारे बैंक NRI को लोन नहीं देते हैं सिर्फ कुछ ही बैंक देते हैं। Applicant को भारत का निवासी  होना चाहिए और co applicant NRI, दोनों का close relation होना चाहिए, और लोन अप्लाई करते वक्त NRI को इंडिया में होना चाहिए। इसके लिए नीचे दिए हुए documents प्रस्तुत करने होंगे। 

  • पासपोर्ट साईज का रंगीन फोटोग्राफ
  • पर्सनल लोन आवेदन पत्र  
  • राष्ट्रीयता के प्रमाण के लिए पासपोर्ट की कॉपी 
  • निवास के देश के प्रमाण के लिए वीज़ा की कॉपी 
  • पिछले 6 महीने के NRI bank statement 
  • पिछले 6 महीने का salary proof 
  • रोजगार के सबूत.

अगर आप loan लेते हैं, तो उसके बहुत सारे rules होते हैं। आपको एक निश्चित समय में एक निश्चित interest rate पर लोन दिया जाता है। बैंक लोन देने से पहले आपका cibil score चेक करते हैं।

Cibil score का मतलब है आपकी banking history क्या रही है? आपने अपने bills चुकाए हैं कि नहीं, आपके account में balance रहता है कि नहीं इत्यादि। आप लोन किसी भी प्रकार का लोन ले सकते हैं। जैसे कि home loan, car loan, property loan, personal loan etc

बैंक आपके लोन को issue करेगा कि नहीं, इसे निर्धारित करने में cibil score का बड़ा किरदार होता है। Cibil score 3 digits का होता है। यह कस्टमर के credit history को बताता है। इसे किसी के credit profile का आईना कहा जा सकता है। उसने अपने लोन को कैसे चुकाया है या फिर उसके सारे bills के payments में उसका behaviour कैसा रहा है। इन्‍हीं सब बातों से credit score बनता है।

Credit Score किसे कहते हैं?

किसी भी प्रकार के लोन के लिए credit score एक जरूरी मापदंड होता है। Credit score 300 से 900 के बीच का एक 3 अंकों की संख्या है। Credit score 900 के जितने पास होगा, कस्टमर को लोन या credit card मिलने की आशा उतनी ही ज्‍यादा होती है। ज्यादेतर बैंक का loan approval के लिए आवश्यक credit score minimum 750 है। 

800 से 900 तक credit score – 800 से ऊपर का credit score बेहतरीन category में आता है। जिस कस्टमर का 800 से ऊपर cibil score होता है उन्हें loan आसानी से मिल जाता है। 800 से ऊपर cibil score होने पर interest rate भी कम लगता है।

700 से 800 तक credit score–  700 से 800 के बीच का cibil score बेहतर category में आता है। ऐसे कस्टमर को business loan आसानी से मिल जाता है।

600 से 700 तक credit score600 से 700 के बीच का cibil score average category में आता है। ऐसे customers को loan तो मिल जाता है लेकिन interest rate market rate से थोड़ा ज्यादे लगता है। 

500 से 600 तक credit score500 से 600 तक cibil score औसत से कम category में आता है। ऐसे कस्टमर को business loan मिलने में थोड़ी कठिनाई होती है।

500 से कम credit score500 से कम cibil score defaulter category में आता है। ऐसे कस्टमर ग्राहकों को business loan मिलने का चांस बहुत कम होता है।

Conclusion Points

बैंक से लोन लेने का सबसे अच्छा ट्रिक है कि आप किसी भी तरह इनकम प्रूफ जनरेट कीजिए. अगर आपके पास इनकम प्रूफ होगा तो आपके कदमों में लोन होगी.

इनकम प्रूफ के लिए अगर आप ₹700000 से कम का आइटीआर फाइल करते हैं तो आपको ऐसे में कोई भी इनकम टैक्स नहीं लगता है. सिर्फ आपको 500 से लेकर ₹1000 चार्टर्ड अकाउंटेंट को देना होगा.

क्या आप बैंक लोन लेने का तरीका सीख गए? इमानदारी से बताइएगा यह आर्टिकल आपको कैसा लगा? इससे संबंधित अगर आपके पास कोई भी प्रश्न हो तो कृपया करके कमेंट बॉक्स में लिखें.

1 thought on “बैंक से लोन लेने का तरीका बताएं: आसानी से लोन कैसे ले”

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

close